EPFO Portal से UAN रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन (UAN Activate Kaise Kare)

(UAN क्या) है | EPF क्या है |UAN Activate Kaise Kare | Universal Account Number | EPFO Portal | यूएएन रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन |

Tag

भारत सरकार ने ईपीएफओ पोर्टल के माध्यम से UAN को एक्टिवेट करने के लिए ऑनलाइन सेवा आरम्भ की है। लोग अक्सर यह सोचते हैं की EPFO का मतलब क्या है? सही मायने में Employees Provident Fund Organization सरकार द्वारा बनाया गया एक पोर्टल है जिसके माध्यम से लोग UAN लॉगिन कर सकते हैं। और साथ ही इसके जरिये पर्सनल डिटेल्स और EPF Balance व पासबुक की भी जांच कर सकते हैं। अपना UAN Activate करने के पश्चात अब कर्मचारी अपना EPF बेलेन्स चेक करके अपना अकाउंट कही से भी ऑनलाइन मैनेज कर सकते हैं। तभी इससे यूनिवर्सल अकाउंट कहा गया है। इस लेख के माध्यम से आप हिंदी में पढ़ पाएंगे की UAN रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन कैसे करें। आईये चरणवद्ध तरीके से इसकी जानकारी लेते हैं।

Contents

UAN क्या है?

सबसे पहले हम UAN के बारें में जानकारी लेते हैं, इसका मतलब होता है Universal Account Number. यह नंबर हर व्यक्ति का लग होता है, जिससे वो अपने यूनिक नंबर के द्वारा EPF Account को कहीं भी बैठकर ऑनलाइन संचालित करके EPF  में UAN लॉगिन कर सकता है। असल में EPF में कर्मचारी का खाता होना आवश्यक है। और कंपनी व सरकार EPF से सम्बंधित सभी काम यहीं से किये जाते हैं। UAN employees का खता नंबर होता है। जो कि EPF में लिंक होता है। इसी खाते में कर्मचारी के पैसे जमा होते हैं। जो की वो भविष्य में इसका उपयोग कर सकता है। इसीलिए इसे भविष्य निधि भी कहा जाता है।

EPFO डिफाइंड बेनिफिट से डिफाइंड कंट्रीब्यूशन

ईपीएफओ में निजी छेत्र के कर्मचारी डिफाइन बेनिफिट की मौजूदा प्रणाली के माध्यम से हर महीने अपनी आय का कुछ हिस्सा जमा कर लेते हैं। पर अब सरकार द्वारा इसमें कुछ बदलाव करने की सिफारिश की गई है। श्रम मंत्रालय ने सुझाव दिए हैं जिसके द्वारा अब डिफाइन बेनिफिट की जो अभी प्रणाली चल रही है उसे हटा के डिफाइंड कंट्रीब्यूशन की प्रणाली को लागू किया जाए, जिससे डिफाइन कंट्रीब्यूशन के अंतर्गत ईपीएफ के सदस्य अपने अनुसार योगदान को घटा बड़ा सकें और उसी अनुसार उनको इसका लाभ मिल सके। इस तरह से अब ईपीएफओ के ढांचे में काफी बदलाव आ जायेगा। जिससे कि निजी क्षेत्र में काम करने वाले लोग अपने वेतन से ज्यादा कंट्रीब्यूशन करके भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं।

  • अभी श्रम मंत्रालय ने कहा की अभी 22 लाख से अधिक EPFO के तहत आने वाले पेंशनभोगी हैं। जिनको हर महीने ₹1000 की पेंशन प्राप्त हो रही है। और इनका योगदान पीएफ में बहुत ही काम जिसे की एक चौथाई मान सकते हैं। यदि पुरानी प्रणाली चलती रहे तो बहुत मुश्किल हो जाएगी। आठ अब डिफाइंड कंट्रीब्यूशन को लागू करना जरूरी हो गया है।
  • केंद्रीय नियासी बोर्ड ने निजी छेत्र के कर्मचारियों की न्यूनतम पेंशन 1000 बढ़ाने की सिफारिश की, जिसे की बढ़ाकर 2000 से 3000 रुपए करने को कहा गया। पर अभी तक इसे लागू नहीं किया गया। क्यों की इससे ईपीएफओ का अतिरिक्त खर्च बहुत बाद जायेगा। कोविड-19 महामारी के कारण ईपीएफओ के यर बाजार में निवेश का भी नकारात्मक रिटर्न रहा है।

जानते हैं कि EPF क्या है

EPF की फुल फॉर्म employees Provident Fund है | इस योजना को केंद्र सरकार ने अक्टूबर 2018 में लांच किया था। इसके अंतर्गत निजी छेत्र में काम करने वाले लोग आते हैं। प्राइवेट कम्पनी, स्चूल्स, हॉस्पिटल आदि में काम करने वाले लोग अपने वेतन का कुछ हिस्सा बचाकर कर्मचारी भविष्य निधि में जमा कर देते हैं। इसमें इंटरेस्ट रेट भी ज्यादा मिलता है और साथ ही कुछ राशि भविष्य के लिए बच भी जाती है। हर कंपनी या इंस्टीटूशन का HR विभाग अपने कर्मचारियों का EPF Account को खोलता है। उसके बाद UAN नंबर और पासवर्ड ऑनलाइन प्राप्त करके आपको देदेता है। अब ईपीएफओ के सदस्य का यूएएन एक्टिव करके ने बाद कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की बहुत सी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

UAN Activate करने की जरूरत क्या है?

अब इस ऑनलाइन सेवा के होने से EPF खाते में पैसे जमा करने के लिए कोई परेशानी उठाने की जरूरत नहीं है। ब बिना EPF ऑफिस जाये जिस कंपनी में आप कार्यरत हैं वहां का HR Department आपके वेतन से कुछ पैसे सीधे आपके अकाउंट में जामा कर देगा। इसके लिए आपको ऑनलाइन सेवा का उपयोग करके आप अपना UAN Activate और रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इसके लिए आपको अब लोगो को EPF खाते में पैसे जमा करने के लिए EPF ऑफिस आने की | UAN NUMBER की आवश्यकता होगी। जो की आपको आपका HR Department प्रदान करेगा। इस प्रकार से आप इस नंबर के माध्यम से अपनी EPF  की राशि की सारी जानकारी व खाते व पासबुक में कितने पैसे हैं इसका भी आसानी से पता कर पाएंगे।

UAN Activate or Registration करने के बाद मिलने वाली सुविधाएं

  • यूएन नंबर रजिस्ट्रेशन कैसे करे
  • अब ईपीएफ पासबुक डाउनलोड करना आसान होगा।
  • आप पासबुक को प्रिंट व अपडेटेड कर पाएंगे।
  • अब आप यूएएन कार्ड को डाउनलोड कर पाएंगे
  • डाउनलोड करने के बाद यूएएन कार्ड प्रिंट भी कर सकते हैं
  • केवाईसी जानकारी अपडेट करने की सुविधा
  • पीएफ विड्रोल

यूएएन एक्टिवेट और रजिस्ट्रेशन करने के लिए ज़रूरी चीज़े

  • Registred  Mobile Number- आपके पास EPFO  रजिस्ट्रेशन के समय जो नंबर आपने अपनी कंपनी के HR डिपार्टमेंट को दिया था वही नंबर मौजूद होना चाहिए। क्यंकि उसमे OTP आएंगे।
  • UAN – आप HR Departement से अपना UAN नंबर प्राप्त करलें। क्योंकि यह तभी सक्रिय हो पायेगा।

UAN Activation और रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

निजी नौकरी में काम करने वाले लोगों को यूएएन की जरूरी होती है। लोग अक्सर सोचते हैं की यूएन नंबर रजिस्ट्रेशन कैसे करे? इसकी प्रक्रिया आपको आगे लेख में दी जा रही है। जो लोग यूएएन को एक्टिवेट और रेजिस्टशन करने के इच्छुक हैं वो आगे लेख में दिए गए तरीकों का पालन करें। UAN  एक्टिवेशन के सभी तरीके नीचे दिए गए हैं :-

1:- पहला तरीका बिना UAN Number से 

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदनकर्ता को EPFO की आधिकारिक वेबसाइट में विस्त करना है।
  • अब होम पेज में Important  link के अंदर Activate UAN  का ऑप्शन दिखेगा। आप इसमें क्लिक करें। अब क्लिक करते ही वेबसाइट नए पेज में रेडिरेक्ट हो जाएगी।
  • अब एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • फॉर्म में कुछ जरूरी जानकारिया मांगी जाएँगी जैसे की आवेदक का नाम, ईपीएफओ मोबाइल नंबर ,डेट ऑफ़ बर्थ, आदि। सारी जानकारियां दर्ज कर दें।
  • आप अपना बिना UAN के पैन नंबर या आधार नंबर का उपयोग करके भी इसे सक्रीय कर सकते हैं। इसके लिए आपके आप सक्रिय रेजिस्ट्रेड मोबाइल नंबर को बॉक्स में दर्ज करना है।
  • फॉर्म में मोब्लिन नंबर के साथ अन्य सभी जरूरी जानकारियां दर्ज करने के बाद Get Authorization Pin के विकल्प पर क्लिक करना होगा। क्लिक करते ही आपके सामने term and conditions को स्वीकारने के लिए रजिस्टर्ड मोब्लिन नंबर पर OTP आएगा, उसे यहाँ दर्ज करें।
  • OTP को बॉक्स में दर्ज करने के बाद Validate OTP and Activate UAN के विकल्प पर आपको क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया से आप बिना UAN नंबर के भी अपना UAN एक्टिवेट कर पाएंगे, और EPFO की सभी सेवाओं का घर बैठे फायदा ले पाएंगे।

दूसरा तरीका

मोबाइल ऐप के द्वारा UAN एक्टिवेट कैसे करे

  • सबसे पहले आवेदक को एनरोइड फ़ोन की जरूरत होगी, उसमे गूगल प्ले स्टोर को खोलना होगा। प्ले स्टोर में सर्च के बॉक्स में EPFO दर्ज करके सच करना होगा।
  • अब आपके सामने EPFO की  मोबाइल एप्लीकेशन की सूची आएगी। अब EPFO मोबाइल ऐप डाउनलोड करके इनस्टॉल कर दें।
  • इनस्टॉल करने के बाद. आपके सामने एप का होम पेज खुलकर आएगा, यहाँ आपको member का विकल्प का विकल्प मिलेगा, इसमें क्लिक करें।
  • अब आपके सामने एप का नया पेज खुलकर आएगा, वहां आपको activate  UAN का विकल्प दिखेगा। अब इसमें क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही एक फॉर्म खुलकर सामने आएगा, अब यहाँ एम्प्लॉएंस नंबर ,EPF नंबर UAN नंबर को दर्ज करें।
  • अब आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर में एक OTP आएगा। जिसे आपको अगले पेज में भरना है। इस तरह से आप अपना यूएन नंबर एक्टिवेट कर पाएंगे।

तीसरा तरीका

SMS के माध्यम से एक्टिवेट करें

अब नयी प्रणाली को और भी आसान बना दिया गया है केवल आप Msg  के माध्यम अपना UAN एक्टिवेट कर सकते है इसके लिए आप नीचे दिए गए तरीके का पालन करे।

  • सबसे पहले आप अपना मोबाइल फ़ोन खोलें, वहां MASSAGE में EPFOHO ACT ,<< 12 Digit का UAN Number >>,22 Digit की EPFO  Member ID लिखकरके 7738299899 में msg सेंड कर दें।
  • message भेजने के बाद आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर में ही EPFO का confirmation message आएगा। और फिर बहुत ही जल्दी आपका UAN एक्टिवेट हो जायेगा |

यूएएन पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ईपीएफओ की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • यहाँ आपको अपना यूएएन नंबर, फिर पासवर्ड, उसके बाद कैप्चा कोड दर्ज करके साइन इन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आसानी से आप पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

यूएएन स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

कुछ लोग जो की अपना यूएएन स्टेटस या यूएन नंबर चेक करना कहते हैं, वो नीचे दिए गए तरीके का पालन करें।

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • वेबसाइट के मुख्या पेज में ही आपको इम्पोर्टेन्ट लिंक का सेक्शन दिखाई देगा। वहां आपको Know Your UAN का विकल्प दिखेगा, आपको इस विकल्प पर ही क्लिक करना है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद वेबसाइट का नया पेज खुलकर सामने आएगा। यहाँ आपको मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड आदि जानकारियां दर्ज करनी है।
  • जानकारियां सही से दर्ज करने के बाद Request OTP के बटन पर क्लिक करें। अब आपके पंजीकृत नंबर पर OTP आएगा। उसे OTP बॉक्स में भरके सर्च के बटन पर क्लिक करें।
  • इस प्रक्रिया से आप अपना यूएएन स्टेटस देख पाएंगे।

कर्मचारियों के माध्यम से प्रत्यक्ष यूएएन आवंटन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • वेबसाइट के मुख्या पेज में ही आपको  Direct UAN Allotment by Employees का विकल्प दिखेगा, आपको इस विकल्प पर ही क्लिक करना है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद वेबसाइट का नया पेज खुलकर सामने आएगा। यहाँ आपको मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड आदि जानकारियां दर्ज करनी है।
  • जानकारियां सही से दर्ज करने के बाद जेनेरेट OTP के बटन पर क्लिक करें। अब आपके पंजीकृत नंबर पर OTP आएगा। उसे OTP बॉक्स में भरके सर्च के बटन पर क्लिक करें।इस प्रक्रिया से आप कर्मचारियों द्वारा प्रत्यक्ष यूएएन आवंटन देख पाएंगे।

पासबुक प्रिंट व अपडेट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ईपीएफओ की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको डाउनलोड/प्रिंट अपडेटेड पासबुक के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको डाउनलोड के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अपडेट पासबुक आपकी स्क्रीन पर होगी।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

यूएएन कार्ड प्रिंट व डाउनलोड करे

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ईपीएफओ की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको डाउनलोड/प्रिंट योर यूएएन कार्ड के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको डाउनलोड के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • यूएएन कार्ड आपकी स्क्रीन पर होगी।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

केवाईसी इंफॉर्मेशन अपडेट कैसे करें

  • सबसे पहले इच्छुक आवेदक को ईपीएफओ की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपको लॉग इन करना होगा।
  • अब आपको अपडेट योर केवाईसी इनफॉरमेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के द्वारा आप आसानी से केवाईसी इंफॉर्मेशन अपडेट कर सकते हैं।

यूएएन अलॉटमेंट एक्जिस्टिंग पीएफ अकाउंट के लिए करने की प्रक्रिया 

  • अब आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर में ओटीपी आएगा, इसे ओटीपी बॉक्स में भर दें।
  • अब नए पेज में आपको मेंबर डीटेल्स दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको यूएन एलॉटमेंट/लिंकिंग से जुड़ी हुई सभी जानकारी दर्ज करके सबमिट के बटन में क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया से आप एक्जिस्टिंग पीएफ अकाउंट के लिए यूएएन एलॉट करवा पाएंगे।

यूएएन व आधार लिंक कैसे करें

  • सबसे पहले आवेदक को ईपीएफओ की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब वेबसाइट का होम पेज खुलकर सामने आएगा।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपको लॉग इन करना होगा।
  • वेबसाइट के मुख्य पेज में ही आपको केवाईसी का विकल्प मिलेगा, इसमें क्लिक करें।
  • अब यहाँ आधार वाले विकल्प में टिक करके अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सेव के बटन को दबाना होगा।
  • अब यहाँ केवाईसी पेंडिंग अप्रूवल वेब पेज में दिखाई देगा। अर्थात यूआईडीएआई द्वारा आधार को अप्रूव कर दिया गया है।
  • अब आपकी कंपनी के नाम के आगे अप्रूव्ड बाय इस्टैब्लिशमेंट लिखा आएगा। और आधार के सामने वेरीफाइड बाय यूआईडीएआई लिखा दिखाई देगा। इस प्रक्रिया से
  • आपका आधार यूएएन से लिंक हो जायेगा।

संपर्क जानकारी

आशा करते हैं की यह लेख आपको पसंद आया होगा। इसमें आपको एएन एक्टिव करने की पूरी जानकारी देने की कोशिश की गई है। पर इसके वावजूद भी आप यदि किसी प्रकार की भी समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप ईमेल या हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर तथा ईमेल आईडी नीचे दी गई हैं।

  • Helpline Number- 1800118005
  • E-mail Id- employeefeedback@epfindia.gov.in

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top