स्‍वामित्‍व योजना 2021: PM Swamitva Yojana लाभ, पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण

स्वामित्व योजना क्या है | PM Swamitra Yojana Apply | PM Swamitra Yojana Official Website In Hindi | प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण | Swamitva Yojana Application Form | स्वामित्व योजना स्वामित्व योजना

पीएम नरेंद्र मोदी जी ने भारत के गांवों में विकास की गति को तेज करने के लिए दो वेब पोर्टल्स ई-ग्राम स्वराज और स्वमित्व योजना की शुरुआत की।ईग्राम स्वराज ऐप पंचायतों को विकास परियोजनाओं को पूरा करने के लिए एक एकल इंटरफ़ेस प्रदान करेगा। ऐप गांवों में योजनाओं को पूरा करने में तेजी लाने में मदद करेगा। और PM Swamitva Yojana ड्रोन और नवीनतम सर्वेक्षण विधियों का उपयोग करके ग्रामीण आबाद भूमि का नक्शा बनाने में मदद करती है। यह योजना सुव्यवस्थित नियोजन, राजस्व संग्रह सुनिश्चित करेगी और ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति के अधिकारों पर स्पष्टता प्रदान करेगी।

PM Swamitva Yojana 2020
PM Swamitva Yojana 2021

इससे मालिकों द्वारा वित्तीय संस्थानों से ऋण के लिए आवेदन करने के रास्ते खुल जाएंगे। संपत्ति से संबंधित विवादों को भी इस योजना के माध्यम से आवंटित उपाधि के माध्यम से सुलझाया जाएगा। आपको ता दें की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 24 अप्रैल को स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया। अब आप गांवों के घरों पर आसानी से बैंक ऋण प्राप्त कर सकेंगे। वास्तव में, पंचायत राज दिवस 2021 के अवसर पर शुरू की गई प्रधान मंत्री की योजना (PM Swamitva Yojana) के तहत आवासीय संपत्तियों को स्वामित्व देने की योजना में बहुत प्रगति हुई है। योजना से जुडी अन्य सभी जानकारी पाने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

स्वामित्व योजना क्या है?

PM Swamitva Yojana को गांव के इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिए शुरू किया गया है। योजना के तहत ग्रामीणों को एक नहीं कई फायदे होंगे। जिसमे संपत्ति को लेकर भ्रम और झगड़े खत्म हो जाएंगे। साथ ही गांवों में भी लोग बैंकों से लोन ले सकेंगे। Swamitva Yojana डिजीटल इंडिया के तहत कार्य करेगी, जिसके लिए कई राज्यों के गांवों के घरों का डिजिटल सर्वेक्षण भी शुरू हो गया है। पीएम स्‍वामित्‍व योजना देश के ग्रामीण क्षेत्रों में एकीकृत संपत्ति सत्यापन समाधान प्रदान करना है। इस योजना के तहत अब ग्रामीण क्षेत्र की आबाद भूमि का सीमांकन नवीनतम सर्वेक्षण विधियों के अनुसार किया जाएगा।

योजना का नाम   पीएम स्वामित्व योजना
घोषणा की गयी   पीएम मोदी जी द्वारा
विभाग  पंचायती राज मंत्रालय
आरंभ तिथि   24 अप्रैल 2021
उद्देश्य   देश भर में पंचायती राज संस्थानों (PRI) में ई-गवर्नेंस को मजबूत करना।
 वेबसाइट   https://egramswaraj.gov.in

Latest New Update: PM Swamitva Yojana

जैसा की हमने आपको बताया की ग्राम स्वराज पोर्टल के शुभारंभ के साथ-साथ पीएम ने पीएम स्‍वामित्‍व योजना भी शुरू की है। इस योजना के तहत अब देश के ग्रामीण क्षेत्र में आवासीय भूमि के स्वामित्व को मैप करना आसान होगा।योजना के तहत अंतर्गत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी 11 अक्टूबर 2021 को देश 763 गांवों के 1.32 लोगों को आबादी की जमीन का मालिकाना हक के कागज सौंपेंगे। इसके साथ ही साथ डिजिटल प्रॉपर्टी कार्ड भी गांव के निवासियों को प्रदान किए जाएंगे। जिसमे हरियाणा के 221, उत्तर प्रदेश के 346, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के दो गांवों के नागरिकों को आबादी की जमीन के मालिकाना हक के कागज सौंपेगे।

PM स्वामित्व योजना 2021 के उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण किसानों की जमीन की ऑनलाइन देखरेख, जमीनों की मैपिंग और उनके सही मालिकाना हक देना, जमीनी प्रक्रिया में पारदर्शिता लाना है।साथ ही गांव के जरूरत मंद व्यक्तियों को उनकी जायजाद के द्वारा बैंक लोन प्रदान करना।

पीएम स्वामित्व योजना का लाभ

PM Swamitva Yojana देश के ग्रामीण नागरिकों की सुविधा प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है। ग्रामीण स्वामित्व योजना  के तहत निम्नलिखित लाभ प्राप्त होंगे।

  • इस योजना से सभी ग्राम संपत्तियों की मैपिंग करके ग्रामीण क्षेत्रों का तेजी से विकास किया जा सकेगा।
  • ड्रोन प्रत्येक भारतीय गांव की भौगोलिक सीमा में आने वाली हर संपत्ति का डिजिटल नक्शा तैयार करेंगे।
  • प्रॉपर्टी कार्ड तैयार कर संबंधित मालिकों को दिए जाएंगे।
  • यह योजना संपत्ति के विवादों को कम करने में मदद करेगी।
  • इससे ग्रामीणों को बैंक ऋण लेने में आसानी होगी।
  • यह गांवों में ढांचागत कार्यक्रमों के लिए प्रभावी रूप से योजना बनाने में सरकार को सक्षम करेगा।

What is Property Cards: स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड

पीएम मोदी के अनुसार, ग्रामीण भारत का डिजिटल नक्शा तैयार होने के बाद, आवासीय संपत्ति के मालिकों को राज्य सरकार द्वारा एक सम्पति कार्ड वितरित किया जाएगा। जिसके आधार पर लोग बैंक से कर्ज ले सकेंगे। साथ ही, यह प्रॉपर्टी टैक्स के दायरे में आएगा। हालाँकि, यह योजना शुरू में यूपी, महाराष्ट्र, कर्नाटक हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में शुरू की गई है।

स्‍वामित्‍व योजना के लिए पात्रता मानदंड

योजना का लाभ लेने के लिए आपको निम्न पात्रता मानदंड का पालन करना होगा।

  • ग्रामीण लोगों को जमीन के मालिक होने के प्रमाण के रूप में स्वामित्व रिकॉर्ड दिया जाएगा।
  • जो लोग 25 सितंबर, 2018 को या उसके बाद आबादी वाली भूमि का उपयोग कर रहे हैं, उन्हें निम्नलिखित भूमि आवंटित की जाएगी, जिसके लिए वे भूमि स्वामित्व रिकॉर्ड प्राप्त करने के लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना के तहत, ग्रामीणों को अपनी संपत्ति पर कब्जे का रिकॉर्ड और स्वामित्व प्रमाण पत्र मिलेगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

PM Swamitra Yojana Apply : ई-ग्राम स्वराज पोर्टल ग्राम पंचायतों के पूर्ण डिजिटलीकरण की दिशा में एक कदम है और भविष्य में, यह एकल मंच बन जाएगा, जो ग्राम पंचायतों द्वारा उठाए गए सभी कार्यों का रिकॉर्ड रखेगा। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

  • सबसे पहले पीएम स्वामित्व योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। यहां होम पेज पर “new registration” पर क्लिक करना होगा।
  • यहाँ क्लिक करते ही आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको अब आवश्यक विवरण जैसे कि नाम, गांव का नाम, मोबाइल नंबर और मेल आईडी आदि दर्ज करनी होंगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको अंत में “Submit” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको एसएमएस के माध्यम से अन्य सभी जानकारी दी जाएगी।

ई ग्राम स्वराज पोर्टल क्या है?

E- Gram Swaraj Portal यह परियोजना भारत में पंचायती राज मंत्रालय द्वारा शुरू की गई है। जब आप ग्राम स्वराज के पोर्टल पर जाएंगे तो आपको वहां एक डैशबोर्ड मिलेगा। पोर्टल पर डैशबोर्ड में वाउचर की राज्य संख्या और भुगतान की स्थिति का नाम है। इस पोर्टल की मदद से विकेंद्रीकृत योजना, प्रगति रिपोर्टिंग और कार्य-आधारित लेखांकन को देखना आसान होगा।Egramswaraj.gov.in पोर्टल एक एकल इंटरफ़ेस है जिस पर विवरण पंचायत वार सूचीबद्ध किया जाएगा। मंच ग्राम पंचायती विकास योजना (जीपीडीपी) के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में योजना बनाने से लेकर क्रियान्वयन तक के रिकॉर्ड उपलब्ध कराएगा।

ई-ग्राम स्वराज संरचना

E-gram swaraj structure के तहत इसके मोबाइल ऐप के माध्यम से निम्न विकल्पों का लाभ ले सकते हैं।

  1. वित्त और अकाउंटिंग
  2. संपत्ति का जियो टैगिंग
  3. कार्यक्रम की रिपोर्टिंग
  4. ग्राम पंचेत प्रोफाइलिंग
  5. कार्य योजना निर्माण
  6. गतिविधि आउटपुट

e-Gram Swaraj App Download

ग्राम पंचायतों और ग्रामीणों के लिए ई ग्राम स्वराज ऐप जारी किया गया है। ऐप जल्द ही गूगल प्ले स्टोर में लाइव होगा। आप Google Play Store के माध्यम से अपने एंड्रॉइड फोन पर ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। ऐप Apple स्टोर पर भी उपलब्ध होगा जहां से इसे अपने iPhone पर डाउनलोड किया जा सकता है। इस बीच, ऐप को egramswaraj.gov.in के आधिकारिक पोर्टल से डाउनलोड किया जा सकता है।या आप नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से भी एप डाउनलोड कर सकते हैं –

DOWNLOAD GRAM SWARAJ MOBILE APP

ई-ग्राम स्वराज ’ऐप और पोर्टल के लाभ

ई-ग्राम स्वराज के ऐप को लॉन्च करते समय पीएम मोदी ने इस नए लॉन्च किए गए ऐप और पोर्टल के विभिन्न उपयोग और लाभों के बारे में जानकारी दी, जो निम्न प्रकार से हैं।

  • स्वराज ऐप और पोर्टल ग्रामीण क्षेत्रों में भूमि और संपत्ति विवाद के निपटान में मदद करेंगे।
  • ग्राम पंचायत और ग्रामीण इस ऐप या पोर्टल के माध्यम से ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • ग्रामीण इस ऐप और पोर्टल के माध्यम से विभिन्न बैंकों से ऋण प्राप्त कर सकते हैं।
  • स्वराज ऐप और पोर्टल ग्राम की मदद से पंचायतें अपनी सभी जरूरतों को डिजिटल कर सकती हैं।
  • इस ऐप के लॉन्च से गांवों में पंचायतों के ई-गवर्नेंस को भी बढ़ावा मिलेगा।
  • अब गाँव डिजिटल तरीके से काम और शासन कर सकेंगे जो उन्हें डिजिटल दुनिया के लाभों से अवगत कराएगा।
  • पोर्टल और ऐप की मदद से काम का विकेंद्रीकरण होगा और काम में पारदर्शिता बढ़ेगी।
  • अब ग्राम स्वराज से जुड़े लोगों के लिए काम की प्रगति की जाँच करना आसान हो जाएगा।

PM Swamitva Yojana Helpline Number

Email : egramswaraj@gov.in

Ministry of Panchayai Raj
Government of India
11th Floor, J.P. Building,
Kasturba Gandhi Marg, Connaught Place,
New Delhi-110001

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कैसे करें ?

स्‍वामित्‍व योजना के तहत बस एक एसएमएस से ग्रामीण अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे। इसके बाद संबंधित राज्य सरकारों द्वारा संपत्ति कार्ड की हार्ड कॉपी भी बांटी जाएगी।पंचायती राज मंत्रालय द्वारा योजना को लागू किया गया है। गांव के हर घर की संपत्ति कार्ड (PM Swamitva Yojana Property Card) बनाने की जिम्मेदारी राज्य सरकारों को दी गयी है।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत ऋण भी प्रदान किया जायेगा?

जी हाँ, ग्रामीण युवा जो बेरोजगार हैं उन्हें ऋण देने का प्रावधान भी प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत रखा गया है।

ग्राम स्वराज पोर्टल से ग्रामीणों को क्या लाभ होगा ?

पीएम स्वामित्व योजना के शुरू होने से ग्राम पंचायतों में होने वाली धांधली जमीनों पर कब्जा और भूमाफिया पर रोक लगेगी और ग्राम स्वराज पोर्टल की सहायता से ग्रामीण लोग अपनी जमीनों से संबंधित सभी जानकारी ऑनलाइन देख सकेंगे।

यहां हमने आपको “प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (PM Swamitva Yojana)” से जुडी सभी जानकारी विस्तार से बताई हैं। यदि आपको इससे संबंधित कोई अन्य प्रश्न पूछने हो, तो आप हमे नीचे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है। हम जल्द से जल्द आपको जवाब देंगे, अन्य सभी सरकारी योजनाओं की सबसे पहले जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.yojanaapplicationform.com के साथ बने रहें। धन्यवाद –

Comments on this post

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top