[PMFBY] प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन, Fasal Bima Yojana

Apply Online Fasal Bima Yojana 2021 | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana | Fasal Bima Yojana Form Download | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन फॉर्म | Apply Online PMFBY 2021 | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) का उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं, कीटों और बीमारियों के परिणामस्वरूप अधिसूचित फसल की किसी भी विफलता की स्थिति में किसानों को बीमा कवरेज और वित्तीय सहायता प्रदान करना है। खेती में अपनी निरंतरता सुनिश्चित करने के लिए किसानों की आय को स्थिर करना, किसानों को नवीन और आधुनिक कृषि पद्धतियों को अपनाने और कृषि क्षेत्र में ऋण के प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिए प्रोत्साहित करना ही Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana का मुख्य उदेश्य है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 18 फरवरी 2016 को शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) किसानों के लिए उनकी पैदावार के लिए एक बीमा सेवा है। इसे पहले की दो योजनाओं को बदलकर राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (NAIS) और संशोधित राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (MNAIS) के साथ वन नेशन-वन स्कीम थीम के अनुरूप तैयार किया गया था, जिसमें अपनी सर्वश्रेष्ठ विशेषताओं को शामिल करके और अपनी अंतर्निहित कमियों को दूर किया गया था। PM Fasal Bima Yojana का उद्देश्य किसानों पर प्रीमियम के बोझ को कम करना और पूर्ण बीमित राशि के लिए फसल आश्वासन दावे का शीघ्र निपटान सुनिश्चित करना है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021-22

पीएमएफबीवाई (PM Fasal Bima Yojana)का लक्ष्य फसल की विफलता के खिलाफ एक व्यापक बीमा कवर प्रदान करना है, जिससे किसानों की आय को स्थिर करने में मदद मिलेगी। योजना में सभी खाद्य और तिलहन फसलों और वार्षिक वाणिज्यिक / बागवानी फसलों को शामिल किया गया है, जिसके लिए पिछले उपज के आंकड़े उपलब्ध हैं और जिसके लिए सामान्य फसल अनुमान सर्वेक्षण (GCES) के तहत फसल कटाई प्रयोगों (CCEs) की अपेक्षित संख्या का संचालन किया जा रहा है।

योजना को सामान्य बीमा कंपनियों द्वारा लागू किया गया है। कार्यान्वयन एजेंसी (IA) का चयन संबंधित राज्य सरकार द्वारा बोली के माध्यम से किया जाता है। अधिसूचित फसलों के लिए फसल ऋण / केसीसी खाते का लाभ उठाने वाले अन्य किसानों के लिए यह योजना अनिवार्य है। योजना का संचालन कृषि मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।

योजना का नाम   प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
संबंधित विभाग   मिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर
लाभार्थी   देश के किसान
ऑनलाइन आवेदन की आरंभ तिथि   आरंभ है
ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि  31 जुलाई 2021 (केवल खरीफ फसल के लिए)
उद्देश्य   देश के किसानों को सशक्त बनाना
सहायता राशि   रु 2,00,000 तक का बीमा
योजना का प्रकार   केंद्र सरकार की योजना
आधिकारिक वेबसाइट    pmfby.gov.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देश्य

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana (PMFBY) का मुख्य उद्देश्य कृषि में स्थायी उत्पादन का समर्थन करना है। इसके अलावा निम्न उदेश्य हैं –

  • अप्रत्याशित घटनाओं से उत्पन्न फसल हानि / क्षति से पीड़ित किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • खेती में अपनी निरंतरता सुनिश्चित करने के लिए किसानों की आय को स्थिर करना।
  • किसानों को नवीन और आधुनिक कृषि पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना।
  • कृषि क्षेत्र को ऋण का प्रवाह सुनिश्चित करना जो खाद्य सुरक्षा, फसल विविधीकरण और कृषि क्षेत्र की वृद्धि और प्रतिस्पर्धा को बढ़ाने के अलावा उत्पादन जोखिमों से किसानों की रक्षा करेगा।

पीएम फसल बीमा योजना से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

यहां हम आपको PM Fasal Bima Yojana (PMFBY) के तहत फसलें और प्रीमियम, गतिविधि कैलेंडर आदि जानकारी प्रदान करेंगे।

Crops & Premium In PMFBY Scheme 2021

क्र0स0 फसल किसान द्वारा देय बीमा राशि का प्रतिशत
1 खरीफ 2.0%
2 रबी 1.5%
3 वार्षिक वाणिज्यिक एवं बागवानी फसले 5%

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना  गतिविधि कैलेंडर

गतिविधि कैलेंडर खरीफ रबी
अनिवार्य आधार पर लोनी किसानों के लिए स्वीकृत ऋण। अप्रैल से जुलाई तक अक्टूबर से दिसम्बर तक
किसानों के प्रस्तावों की प्राप्ति के लिए कट ऑफ़ तारीख (ऋणदाता और गैर-ऋणदाता)। 31 जुलाई 31 दिसम्बर
उपज डेेटा प्राप्त करने के लिये कट आफ तारीख अतिंम फसल के एक महीने के भीतर अतिंम फसल के एक महीने के भीतर

फसल बीमा योजना के तहत किसानों का कवरेज

सीजन के दौरान अधिसूचित क्षेत्र में अधिसूचित फसल उगाने वाले सभी किसान जिनकी फसल में बीमा योग्य रुचि है, वे पात्र हैं।

  • अनिवार्य कवरेज => योजना के तहत नामांकन, अधिसूचित क्षेत्र में अधिसूचित फसल की खेती पर अयोग्य ब्याज के कब्जे के अधीन, किसानों की निम्नलिखित श्रेणियों के लिए अनिवार्य होगा।
  1. अधिसूचित क्षेत्र के किसान जिनके पास फसली ऋण खाता / केसीसी खाता (ऋणधारी किसान कहा जाता है) जिनके पास फसल के मौसम के दौरान अधिसूचित फसल के लिए ऋण सीमा स्वीकृत / नवीनीकृत है। तथा
  2. ऐसे अन्य किसान जिन्हें सरकार समय-समय पर शामिल करने का निर्णय ले सकती है।
  • स्वैच्छिक कवरेज => स्वैच्छिक कवरेज उन सभी किसानों द्वारा प्राप्त की जा सकती है, जिन्हें क्रॉप केसीसी / फसल ऋण खाताधारक शामिल नहीं हैं, जिनकी क्रेडिट सीमा का नवीनीकरण नहीं किया गया है।

PM Fasal Bima Yojana फसलों का कवरेज

  • तेल के बीज
  • खाद्य फसल
  • वार्षिक वाणिज्यिक / वार्षिक बागवानी फसलें

बारहमासी फसलों के अलावा, कवरेज के लिए पायलटों को उन बारहमासी बागवानी फसलों के लिए लिया जा सकता है, जिसके लिए उपज आकलन के लिए मानक पद्धति उपलब्ध है।

PM Fasal Bima Yojana new update

जैसा की आप सभी जानते ही हैं, देश इस समय कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहा है। इस समय सभी को अपने काम में बहुत नुकसान उठाना पड़ रहा है। उसी और कई किसानों की फसल भी बर्बाद हो गयी लेकिन कोरोना महामारी के कारण लगे लॉक डाउन के कारण किसान भाइयों को इस वर्ष अपनी फसल का बीमा करने में दिक्क़तें आयी। लेकिन अब सरकार द्वारा खरीफ फसलों के बीमा की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2021 कर दी है। देश के जो इच्छुक लाभार्थी पीएम फसल बीमा योजना का लाभ उठाना चाहते है तो वह 31 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। जो ऋणी किसान बीमा सुविधा नहीं चाहते है वह अंतिम तिथि के 7 दिन पूर्व लिखित रूप से अपनी बैंक शाखा को अवश्य सूचित करें।

Fasal Bima Yojana जोखिम और बहिष्करण का कवरेज

फसल हानि के बाद होने वाले फसल जोखिमों के निम्नलिखित चरण योजना के अंतर्गत आते हैं।

  • रोका बुवाई / रोपण / अंकुरण जोखिम =>  बीमाकृत क्षेत्र को बुवाई / रोपण / अंकुरण से घाटे की वर्षा या प्रतिकूल मौसमी / मौसम की स्थिति के कारण रोका जाता है।
  • स्थायी फसल (फसल की कटाई के लिए) =>  गैर-रोकथाम योग्य जोखिम, अर्थात के कारण उपज के नुकसान को कवर करने के लिए व्यापक जोखिम बीमा प्रदान किया जाता है। सूखा, सूखा गोला, बाढ़, बाढ़, व्यापक कीट और रोग का हमला, भूस्खलन, प्राकृतिक कारणों से आग, बिजली, तूफान, तूफान और चक्रवात।
  • कटाई के बाद के नुकसान =>  कवरेज केवल कटाई से दो सप्ताह की अधिकतम अवधि तक उपलब्ध है, उन फसलों के लिए जिन्हें कटाई में सूखने की आवश्यकता होती है और ओलावृष्टि, चक्रवात के विशिष्ट खतरों के खिलाफ कटाई के बाद खेत में फैल / छोटी बंधी हुई स्थिति होती है। , चक्रवाती बारिश, और बेमौसम बारिश
  • स्थानीयकृत आपदाएँ => अधिसूचित क्षेत्र में अलग-अलग खेतों को हल्का करने के कारण ओलावृष्टि, भूस्खलन, बाढ़, बादल फटने और प्राकृतिक आग के स्थानीय जोखिमों की घटना के परिणामस्वरूप अधिसूचित बीमित फसलों को नुकसान / क्षति।
  • जंगली जानवरों द्वारा हमले के कारण फसल के नुकसान के लिए एड-ऑन कवरेज =>  जंगली जानवरों द्वारा हमले के कारण राज्यों को फसल नुकसान के लिए एड-ऑन कवरेज प्रदान करने पर विचार किया जा सकता है, जहां जोखिम पर्याप्त माना जाता है और पहचान योग्य है।

Pradhan Mantr Fasal Bima Yojana की पात्रता व आवश्यक दस्तावेज

यदि आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 का लाभ लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास निम्नलिखित पात्रता व दस्तावेजों का होना अनिवार्य है –

पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria)

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत देश के सभी किसान पात्र है।इस योजना के तहत आप अपनी ज़मीन पर पर की गयी खेती का बीमा करवा सकते है साथ ही आप किसी उधार की पर ली गयी ज़मीन पर की गयी खेती का भी बीमा करवा सकते है। देश क उन किसानो का इस योजना के तहत पात्र माना जायेगा ।जो पहले किसी बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हो।

आवश्यक दस्तावेज (Required Documents)
किसान का आई डी कार्ड आधार कार्ड
राशन कार्ड बैंक खाता
किसान का एड्रेस प्रूफ खेत का खाता नंबर /खसरा नंबर के पेपर
आवेदक का फोटो किसान द्वारा फसल की वुआई की तारीख
अगर किराये का खेत हो तो खेत के मालिक के साथ इकरार की फोटो कॉपी

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कंपनियों की सूची

कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग ने भारत की कृषि बीमा कंपनी (एआईसी) को नामित / इंप्रूव किया है और वर्तमान में कुछ निजी बीमा कंपनियां सरकार द्वारा प्रायोजित कृषि / फसल बीमा योजनाओं में भाग लेने के लिए अपनी वित्तीय ताकत, बुनियादी ढांचे, जनशक्ति और विशेषज्ञता आदि पर आधारित हैं। । वर्तमान में निम्न बीमा कंपनियां हैं-

  • एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लि
  • आईसीआईसीआई-लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड
  • HDFC-ERGO जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड
  • इफको-टोकियो जनरल इंश्योरेंस कंपनी लि।
  • चोलामंडलम एमएस जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड
  • बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस कंपनी लि।
  • Reliance General Insurance Company Ltd.
  • Future Generali India Insurance Company Ltd.
  • Tata-AIG General Insurance Company Ltd.
  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस कंपनी लि।
  • यूनिवर्सल सोमपो जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

यदि आप भी Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana(PMFBY) के तहत अपना आवेदन करना चाहतें हैं तो आपको इसके लिए कुछ आसान से चरणों का पालन करना होगा। जो निम्न प्रकार से हैं –

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब इस ऑफिशियल वेबसाइट पर आपको अपना एक एकाउंट बनाना होगा।
  • अकाउंट बनाने की लिए आपको होम पेज पर “Farmer Corner” पर क्लिक करना होगा। जैसा नीचे चित्र में दिखाया गया है।
Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • यहां क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुलेगा, जहां आपको दो विकल्प दिखाई देंगे।
    Login for Farmer और Guest Farmer यहां आपको “Guest Farmer” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
PM Fasal Bima Yojana Registration Form
PM Fasal Bima Yojana Registration Form
  • यहां आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी ध्यान से भरनी होंगी। और अंत में Captcha Code भरकर “Create User” पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको सक्सेसफुल का मैसेज दिखाई देगा।

पीएम फसल बीमा योजना आवेदन की स्थिति देखे

यदि आपने PM Fasal Bima Yojana में आवेदन किया है और अब आप अपने आवेदन की जाँच करना चाहते हैं। तो आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट (https://pmfby.gov.in/) पर जाएँ। यहां होम पेज पर आपको “Application Status” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

    Check the status of PM Fasal Bima Yojana
    Check the status of PM Fasal Bima Yojana
  • यहां क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज ओपन हो जायेगा। यहां आपको अपना Reciept Number दर्ज करना होगा।
  • फिर कैप्चा कोड डालकर अंत में “Search Status” पर क्लिक करना होगा।
  • यहां क्लिक करने के बाद आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति की पूरी जानकारी आ जाएगी।

फसल बीमा योजना इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेट करे

यदि आप योजना का इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेट करना चाहतें हैं तो इसके लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें।

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट (https://pmfby.gov.in/) पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको होम पेज पर “Insurance Calculator” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PMFBY Insurance Calculator
PMFBY Insurance Calculator
  • यहां क्लिक करते है आपके सामने एक पेज खुल जायेगा। यहां आपको पूछी गयी जानकारी जैसे फसल का चयन , साल ,स्कीम , स्टेट , डिस्ट्रिक्ट , क्रॉप आदि का चयन करना होगा।
  • सभी जानकारी का सही से चयन करके अंत में “Calculate” के बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आप प्रीमियम को कैलकुलेट कर सकते है।

File a complaint under Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

यदि आपको किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा हो या आपकी कोई शिकायत हो तो आप ऑनलाइन ही अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। जिसके लिए निम्न चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट (https://pmfby.gov.in/) पर जाना होगा। यहां होम पेज पर आपको “Technical Grievance” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज खुल जायेगा। यहां आपको नाम, मोबाइल नंबर , ईमेल आईडी , और कमैंट्स/शिकायत को दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको अंत में “सबमिट” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

जानकारी प्राप्त करने के लिए फ़ोन नंबर – 01123382012
हेल्पलाइन नंबर – 01123381092

अधिक जानकारी के लिए ==> यहां क्लिक करें

यहां हमने आपको “प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना(Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana/PMFBY)” की सभी जानकारी प्रदान की हैं। यदि आपको इससे जुड़े किसी प्रश्न का जवाब चाहिए तो, आप हमे अपना प्रश्न नीचे कमेंट के माध्यम से लिख भेजिए। हम जल्द से जल्द आपको जवाब देंगे, अन्य सभी सरकारी योजनाओं की विस्तार से जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट के साथ बने रहें। धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top