फसल राहत योजना झारखण्ड: ऑनलाइन आवेदन (Fasal Rahat Yojana) पंजीकरण प्रक्रिया

Jharkhand Fasal Rahat Yojana Apply | फसल राहत योजना झारखण्ड ऑनलाइन आवेदन | फसल राहत योजना झारखण्ड पंजीकरण प्रक्रिया | Fasal Rahat Yojana Form

फसल राहत योजना झारखण्ड 2021 के तहत सरकार राज्य में किसानों के 50000 / – रुपये तक के कृषि ऋणों को माफ करने की योजना बना रही है, साथ ही साथ Fasal Rahat Yojana Jharkhand  के साथ। 1 जनवरी 2021 से किसानों को एक साथ दोनों योजना का लाभ मिलेगा। यह योजना 1 जनवरी 2021 से राज्य के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन द्वारा शुरू की जाएगी। इसे झारखंड किसान कर्ज़ माफी योजना के नाम से भी जाना जाता है।

 Fasal Rahat Yojana Jharkhand
Fasal Rahat Yojana Jharkhand

प्रारंभ में, झारखंड सरकार ने इस योजना के लिए झारखंड राज्य के किसानों का ऋण माफ करने के लिए 2000 / – करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। पीएम किसान बीमा योजना को राज्य सरकार की अपनी फासल राहत बीमा योजना के साथ बदलने का भी फैसला किया है और Fasal Rahat Yojana Jharkhand के लिए शुरू में 100 / – करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। झारखंड सरकार 2020-21 के नवीनतम बजट में जनता के लिए कई और कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा करने जा रही है। इसमें युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ता, किसानों के लिए कृषि ऋण माफी योजना, जनता के लिए मुफ्त बिजली वितरण, गंभीर बीमारी के लिए मुफ्त इलाज और उन छात्रों के लिए सार्वभौमिक छात्रवृत्ति जैसी कई और योजनाएं शामिल हैं, जो राज्य के सरकारी स्कूल हैं।

Fasal Rahat Yojana Jharkhand 2021

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सरकार 29 दिसंबर को अपनी पहली वर्षगांठ मनाएगी। इस मौके पर राज्य सरकार किसानों को बड़ा तोहफा देने जा रही है। इस दिन, मुख्यमंत्री राज्य के किसानों के लिए झारखंड कृषि ऋण माफी योजना शुरू करेंगे।झारखंड फार्म लोन माफी योजना 2021 और Fasal Rahat Yojana 2021, 1 जनवरी से शुरू होने जा रही है। झारखंड किसान कर माफी योजना में, राज्य सरकार प्रति किसान 50,000 रुपये तक के किसानों के ऋण माफ करेगी।इसके साथ ही Fasal Rahat Yojana Jharkhand के तहत फसल का नुकसान की स्थिति में बीमा कंपनी द्वारा पंजीकृत किसान को नुकसान की राशि प्रदान की जाएगी। Fasal Rahat Yojana के अंतर्गत सूखा पड़ना, ओले पड़ना आदि जैसी प्राकृतिक आपदाओं को जोड़ा गया है। इस योजना से किसानो की आय बढ़ेगी और वे आत्मनिर्भर बनेंगे।

योजना का नाम   फसल राहत योजना
राज्य   झारखण्ड
शुरू की गयी   मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी द्वारा
लाभ   कृषि ऋण माफी के लिए 2,000 करोड़ रु.
लाभार्थी   झारखंड के नागरिक
उद्देश्य  फसल नुकसान पर आर्थिक सहायता प्रदान करना
वर्ष   2020-21
 आधिकारिक वेबसाइट   उपलब्ध नहीं है 

झारखंड सरकार ने उन किसानों के लिए एक अल्पकालिक कृषि ऋण माफी योजना शुरू करने का फैसला किया है, जिनकी आय का हिस्सा कृषि ऋण चुकाने में जाता है। झारखंड किसान कर्ज़ माफी योजना के प्रथम चरण 2020-21 में, 50,000 रुपये तक के कृषि ऋण माफ किए जाएंगे। राज्य सरकार ने राज्य में किसानों के लिए झारखंड फार्म ऋण माफी योजना के लिए 2,000 करोड़ रुपये रखे हैं।

झारखंड कृषि ऋण माफी योजना 2021

झारखंड बजट 2020-21 को राज्य विधानसभा में 86,370 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर प्रस्तुत किया गया था। इस बजट में राजस्व और व्यय का अनुमान लगभग 73,316 करोड़ रुपये था, और पूंजीगत व्यय का अनुमान लगभग 13,054 करोड़ रुपये था। झारखंड राज्य की कुल आबादी का लगभग 75% कृषि और संबद्ध गतिविधियों पर निर्भर करता है। झारखंड राज्य सरकार कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों के विकास के लिए दृढ़ संकल्प के साथ काम करती है और इस बार वे झारखंड कृषि ऋण माफी योजना शुरू करेंगे।

फसल राहत योजना झारखण्ड का उद्देश्य

फसल राहत योजना झारखण्ड का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए नुकसान में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है।Fasal Rahat Yojana के अंतर्गत किसान की आय में वृद्धि होगी जिससे किसान सशक्त बनेंगे और फसल को होने वाले नुकसान की चिंताओं से मुक्त होकर खेती में पूरी मेहनत कर अपनी उपज में बढ़ोतरी कर पाएंगे।

Fasal Rahat Yojana Jharkhand के लाभ

  • झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के लिए 2,000 करोड़ रुपये की अनंतिम राशि आवंटित की है।
  • कृषि विभाग ने तय किया है कि अगर सरकार कर्ज माफी के एवज में बैंकों को दो हजार करोड़ रुपये दे रही है, तो इससे बैंकों को किसानों को कर्ज देने की उम्मीद है।
  • सरकार एक रुपए के टोकन मनी पर कर्ज माफ करने जा रही है।
  • झारखण्ड फसल राहत योजना के तहत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले फसल नुकसान के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • Fasal Rahat Yojana के तहत फसल नुकसान की राशि पंजीकृत किसानों को बीमा कंपनी द्वारा दी जाएगी।
  • फसल राहत योजना झारखण्ड दिसंबर 2020 के अंत तक शुरू कर दी जाएगी।

फसल राहत योजना झारखण्ड पात्रता मानदंड

  • आवेदक झारखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • वे सभी किसान जो पहले से किसी बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं, इस योजना के तहत पात्र होंगे।

झारखंड मुख्यमंत्री फसल राहत योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड  राशन पत्रिका किसान का आईडी कार्ड बैंक खाता विवरण
आवास प्रामाण पत्र फार्म अकाउंट नंबर खसरा नंबर पेपर फ़ोन नंबर
आय प्रमाण पत्र  पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

फसल राहत योजना झारखण्ड 2020-21 ऑनलाइन आवेदन करें

फसल राहत योजना झारखण्ड 2021, 1 जनवरी 2021 से शुरू होने जा रही है।अभी सरकार द्वारा Fasal Rahat Yojana की आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च नहीं की है, जल्द ही सरकार द्वारा फसल राहत योजना झारखण्ड के लिए आवेदन प्रक्रिया सांझा करेगी। जैसे ही सरकार द्वारा Fasal Rahat Yojana Jharkhand Form / झारखण्ड फसल राहत योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू करेगी तब आप नीचे दिए चरणों का उपयोग कर आसानी से आवेदन कर सकते हैं –

  • सबसे पहले फसल राहत योजना झारखण्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • इसके बाद मुखपृष्ठ पर “ऑनलाइन आवेदन करें” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • फिर आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म पेज स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  • अब यहां आप आवश्यक विवरण दर्ज करें (सभी विवरण जैसे नाम, पिता / पति का नाम, जन्म तिथि, लिंग, जाति और अन्य जानकारी) दर्ज करें और दस्तावेज़ अपलोड करें।
  • इसके बाद एप्लिकेशन के अंतिम सबमिशन के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।

NOTE => जैसे ही फसल राहत योजना झारखण्ड की आधिकारिक वेबसाइट जारी की जाएगी हम यहां अपडेट कर देंगे।

यहां हमने आपको “Fasal Rahat Yojana Jharkhand” की सभी जानकारियां विस्तार से बताई है। यदि आपको इससे संबंधित कोई अन्य जानकारी या सवाल पूछने हों, तो आप नीचे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। हम जल्द से जल्द आपको जवाब देंगे। अन्य सभी सरकारी योजनाओं की सबसे पहले व विस्तार से जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.yojanaapplicationform.com के साथ बने रहें। धन्यवाद –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top